Search This Blog

Monday, December 1, 2014

HIV --All about it

एचआईवी एक ऐसी बीमारी है जिसके नाम से ही जिंदगी रूक जाती है,लेकिन ऐसा नहीं है अगर एचआईवी होने पर भी आप खुद को एक बेहतर लाइफ दे सकते हैं। आज एचआईवे डे पर हम आपको एचआईवी के बारे में बता रहे है ताकि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी हो।

क्या है HIV ?

एचआईवी की फुल फॉर्म है ह्यूमन इम्यूनो वायरस। यह वायरस बॉडी के इम्यूम सिस्टम पर अटैक करता है। इसके चलते शरीर की बीमारियों के खिलाफ लड़ने की ताकत कम होती जाती है।
अगर किसी को एचआईवी है, तो इसका मतलब यह है कि उसकी बॉडी में एचआईवी वायरस आ गया है। अगर वो दवाई नहीं लेता, तो यह एड्स में विकसित हो सकता है।

एचआईवी के Early Symptoms:

STAGE ONE:

एचआईवी संक्रमण के 7-10 दिन बाद, मरीज़ में ये लक्षण दिखते हैं:
- गला खराब
- बुखार
- छाती पर रैश
- थकान
- उल्टी जैसा लगना
- हैजा

STAGE TWO:

एचआईवी के ये early लक्षण पहचान पाना मुश्किल होता है, क्योंकि ये 2-3 हफ्तों में गायब हो जाते हैं। इन लक्षणों को कभी-कभार डॉक्टर्स भी मिस कर देते हैं। ऐसे में एचआईवी पॉज़िटिव शख्स कई साल तक इन लक्षणों के साथ जीता रहता है। आप मान लीजिए कि मरीज़ 10 साल तक इन लक्षणों के साथ जी सकता है।

STAGE THREE:

इस स्टेज पर पहुंचकर बॉडी का इम्यून सिस्टम बहुत वीक हो जाता है और वो बीमारियों से घिर जाता है। अब उसके शरीर में इन बीमारियों से लड़ने की ताकत भी नहीं बचती है। मरीज़ अब टीबी, निमोनिया, फंगल रोगों, बैक्टीरियल रोगों और वायरल रोगों से घिर जाता है। फिर मरीज़ को एचआईवी के लिए दवाई दी जाती है, ताकि उसका इम्यूम सिस्टम और डैमेज न हो।
FACTS:

लगभग 90 प्रतिशत लोग एचआईवी की गिरफ्त में सेक्शुअल कॉन्टेक्ट से आते हैं।अगर एचआईवी पॉज़िटिवशख्स प्रोटेक्शन यूज़ किए बिना रिलेशनशिप बनाता है,तो उसके पार्टनर को भी एचआईवी पॉज़िटिव के पूरे चांसेस होते हैं। एचआईवी संक्रमित सुई, सीरिंज या अन्य इंजेक्शन लगाने वाले उपकरण से भी हो सकता है। एचआईवी का टेस्ट सलाइवा सैंपल से भी हो सकता है।
एचआईवी थूक फेंकने, काटने या फिर बर्तन शेयर करने से नहीं फैलता।
अगर प्रेग्नेंट महिला को एचआईवी है, तो इस केस में 1 प्रतिशत शिशुओं को एचआईवी का खतरा होता है। एचआईवी का रिज़ल्ट 15-20 मिनट में सामने आ जाता है। एचआईवी का कोई टीका या इलाज नहीं है। Myth: क्या HIV और AIDS एक ही होते हैं ?

Fact: इन दोनों का मतलब एक नहीं होता। अगर किसी को एचआईवी है, तो वो दवाई लेकर अपनी ज़िंदगी बढ़ा सकता है। जिस इंसान को एड्स होता है, उसका इम्यूम सिस्टम इतना कमज़ोर हो जाता है कि वो किसी भी बीमारी से लड़ नहीं पाता।

Myth: अगर दोनों में से एक पार्टनर भी एचआईवी पॉज़िटिव है, तो उनका बच्चा नहीं हो सकता ?

Fact: ऐसा नहीं है। अगर सही स्टेप्स उठाए जाएं, तो एचआईवी न तो पार्टनर को होगा और न ही बच्चे में आएगा। यूके में 1 प्रतिशत से भी कम चांस होते हैं कि एचआईवी मां से बच्चे को भी आ जाए। इसमें आपको डॉक्टर की सलाह माननी चाहिए और सही स्टेप्स फॉलो करने चाहिए।
Myth: क्या HIV और AIDS एक ही होते हैं ?

Fact: इन दोनों का मतलब एक नहीं होता। अगर किसी को एचआईवी है, तो वो दवाई लेकर अपनी ज़िंदगी बढ़ा सकता है। जिस इंसान को एड्स होता है, उसका इम्यूम सिस्टम इतना कमज़ोर हो जाता है कि वो किसी भी बीमारी से लड़ नहीं पाता
HIV कैसे हो सकता है ?

Fact: एचआईवी ब्रेस्ट मिल्क, सीमेन (वीर्य), वजाइनल फ्लूड्स और ब्लड से हो सकता है। डे-टू-डे कॉन्टेक्ट, किसिंग,थूक या एक ही कप और प्लेट शेयर करने से एचआईवी नहीं होता।

Myth: HIV पॉज़िटिव शख्स की जल्दी मृत्यु हो जाती है ?

Fact: वैसे तो एचआईवी का पक्का इलाज नहीं है, लेकिन आजकल ट्रीटमेंट्स इतनी एडवांस हो गई हैं कि एचआईवी पॉज़िटिव मरीज़ भी जी सकता है। यूके में एचआईवी पॉज़िटिव शख्स की आयु नॉर्मल ही होती है और वो एक्टिव लाइफ जीता है। अगर एचआईवी का जल्दी पता चल जाए, तो यह बॉडी को ज़्यादा हार्म नहीं पहुंचा पाता।

Myth: क्या ओरल सेक्स से भी HIV होने के चांसेस हैं ?

Fact: ओरल सेक्स से एचआईवी होने के चांसेस बहुत कम होते हैं, लेकिन यह हो सकता है। अगर मुंह में छाले, कट्स,मसूड़ों में खून की समस्या चल रही है, तो ओरल सेक्स अवॉइड करना चाहिए, क्योंकि इस केस में एचआईवी पॉज़िटिव होने के चांसेस बढ़ जाते हैं।

मैं खुद को और दूसरों को HIV इंफेक्शन से कैसे बचा सकता हूं ?

Fact: सेक्स के दौरान हमेशा प्रोटेक्शन यूज़ करनी चाहिए। एक दूसरे की सीरिंज, सुई बिल्कुल भी शेयर न करें।

का है ज़्यादा रिस्क, ये हैं इसके 3 Stages और Facts
Dainikbhaskar.com | Dec 1, 2014, 11:49:00 AM IST
8 of 8 ImageAAA


Myth: HIV टेस्ट का रिज़ल्ट आने में कई महीने लग जाते हैं ?

Fact: आजकल मेडिकल काफी एडवांस हो गया है। यह सच नहीं है कि एचआईवी टेस्ट का रिज़ल्ट आने में 3, 6 या 12 महीने लग जाते हैं। आजकल एचआईवी टेस्ट का रिज़ल्ट 15-20 मिनट में ही आ जाता है। दरअसल, रिज़ल्ट टेस्ट पर निर्भर करता है।अगर किसी को भी लगता है कि वो एचआईवी एक्सपोज़र में आया है, तो उसे तुरंत टेस्ट करवाना चाहिए।

Myth: सिर्फ गे मैन को ही HIV होता है ?

Fact: इस बात में कोई दो राय नहीं है कि गे मैन को एचआईवी संक्रमण जल्दी हो जाता है, लेकिन एचआईवी किसी को भी हो सकता है। यूके में 37,000 से भी ज़्यादा गे मैन एचआईवी की गिरफ्त में हैं।

No comments:

Post a Comment